स्नेह समर्पण और सुरक्षा का हर मन मे भाव जगाना

स्नेह समर्पण और सुरक्षा का हर मन मे भाव जगाना
हर आंगन मे बांट के खुशिया हर ऐक चित्त को हरसाना
मन के दीप जलाओ पहले फिर तुम घर-घर दीप जलाना
तभी सही अर्थो मे दीपो का ये त्योहार मनाना…