सुप्रभात – Good morning

करते है मोल भाव भगवान
की मूर्ति खरीदते वक़्त

और फिर उसी मूर्ति से घर में
करोडो मांगते है… !!!

ये नादानी भी,
सच मे बेमिसाल है…!*

अंधेरा दिल मे है,
और दिये मन्दिरों मे जलाते हैं.

सुप्रभात??

??????????
रहे सलामत ज़िंदगी उनकी,
जो मेरी ख़ुशी की फरियाद करते हैं;

ऐ भगवान उनकी ज़िंदगी खुशियों से भर दे,
जो मुझे याद करने के लिए अपना एक पल बर्बाद करते हैं;
?सुप्रभात?

???Good morning ji???

मैने पुछा भगवान से
कैसे करूं तेरी पूजा

भगवान बोले ,

“खुद भी तु मुस्कुरा
औरो को भी मुस्कुराने
की वजह दे”

बस हो गई मेरी पूजा
शुभ प्रभात
??

शीशा और रिश्ता दोनों ही
बडे़ नाजुक होते हैं ,
दोनों में सिर्फ एक ही फर्क है,
शीशा ” गलती ” से टूट जाता है
और रिश्ता ” गलतफहमियों ” से!

ये जिन्दगी.
एक अजीब सी दौड़ है
जीत जाओ …..
तो कई अपने पीछे छूट जाते हैं
और हार जाओ तो …..
अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं